Author: rakhithakur

How to stop overthinking?

अगर आप भी ओवेरथिंकिंग से परेशान हैं तो करें यह सरल उपाय How to stop overthinking?

सोच विचार की यह जो प्रक्रिया है (thought process) यह हमारे मस्तिष्क का एक अभिन्न अंग होता है। लेकिन इसकी वजाय दिमाग हमेशा चलता रहे तो यह फिर  Overthinking कहलाने लगती है। इस ओवरथिकिंग की प्रक्रिया को हम पॉइंट्स के द्वारा समझते है जैसे कि, क्या आपका जो दिमाग है उस में हमेशा सोच विचार आप करते रहते हैं। आप रात को सो भी नहीं पाते क्योंकि आपका दिमाग सोचने विचारने मे दौड़ता रहता होगा। और आप जल्दी से कोई फैसला भी नहीं ले पाते होंगे क्योंकि आप हमेशा ज्यादातर सोचते ही रहते होंगे मतलब कि आप अपने Mind पर Control नहीं रख पाते होंगे। कंटिन्यू दिमाग चलते रहने से आप काफी जायदा थका हुआ महसूस करते हैं। अगर आप मे पॉइंट्स मे बताये लक्षण है तो आप Overthinking (अत्यधिक सोच) के शिकार हैं। क्या अत्यधिक सोच से छुटकारा पाया जा सकता है Can overthinking be overcome हाँ जी बिलकुल,

आगे पूरा पढ़े -
How to stop hiccups instantly?

हिचकी कभी भी, कही पर भी आ जाती तो इसे बंद करने के लिए करे यह उपाय How to stop hiccups instantly?

आपने सुना तो होगा हिचकी के बारे में काफी सारी मान्यताएं और काफी लोग भी इसको लेकर अलग सोचते हैं। लेकिन हम आपको आज की इस पोस्ट मे इसके हेल्थ से जुड़े कारणों और हिचकी को रोकने के तरीके (Ways to stop hiccups) को बताएंगे। जय्दातर हम लोगो के साथ ऐसा होता है खाना खाने के बाद हमे हिचकी अपने आप आने लगती है। खाने को ज्यादा खाने से या खाने के बाद अधिक पानी पीने या फिर खाने को बहुत जल्दी खाने से या पानी पीने के बाद भी हमे हिचकी आ जाती है। कभी कभी हिचकी का आना नोरमल होता है। पर जब यह हिचकी लगातार आने लगती है और बार-बार आती है, तो कोई भी जाहिर है की परेशान हो जाएगा। यदि आप भी इस समस्या से गुजर रहे हैं, तो आप भी जान ले हिचकी को रोकने के घरेलू उपाय। क्या है हिचकी आने का कारण 

आगे पूरा पढ़े -
How to choose right foundation?

अपनी स्किन टोन के हिसाब से कैसे चुने राइट फाउंडेशन, जानें सही तरीका How to choose right foundation?

जब हम किसी भी फंक्शन के लिए तैयार (Ready for function) होते हैं तो हम तैयार तो हो जाते हैं पर हमारे मन में सवाल चलते रहते हैं कि मैं लाइट बल्ब की तरह इतनी स फ़ेद क्यों चमक रही हूं, मन मे बार बार एक ही सवाल आता होगा कि मेरा फेस और मेरी गर्दन का रंग एक-दूसरे से बिलकुल अलग (Distinct neck color) क्यों दिखाई दे रहे हैं, इतना ही नहीं बल्कि ऐसा भी मन में आता है कि है  भगवान इस मेकअप से तो मेरा लुक और भी गहरा लग रहा है| यह सभी समस्याओं का केवल एक ही कारण है और वह कारण यह है की आप मेकअप फाउंडेशन का शेड गलत लगाते हैं। आपको इस जानकारी का पता होना चाहिए की कोई भी एक ऐसा फाउंडेशन नहीं है की जिसका प्रयोग सभी स्किन टोन के लिए एक ही हो। आपको यह जानना होगा की सही

आगे पूरा पढ़े -
How to register a domain to create a website?

अपनी वेबसाइट को बनाने के लिए डोमेन नेम कैसे करे रजिस्टर How to register a domain to create a website?

आप सभी जानते हैं की आपकी खुद की पहचान आपके नाम से ही होती है | यह सब लोग ही जानते हैं की हमारे उनके नाम की उनकी लाइफ में क्या अहमियत होती है | वैसे ही ठीक, यदि आपको को बिज़नस है और आप कोई बिज़नेस करते है तो आपके जो बिज़नेस का नाम (Name of business) होता है उस नाम को दुनिया के हर एक कोने कोने तक फेमस करने के लिए इंटरनेट की दुनिया में डोमेन के नाम की बहुत जरूरत (Domain name required) होती है| जैसे, हमारी कंपनी का नाम “Addon abroad Pvt. ltd. है पर हमारे डोमेन क जो नाम होगा वो यह  ‘abrad.com’ हो सकता है | यह जरूरी नहीं है की यदि आप एक बिज़नेस करते हैं तभी ही डोमेन ले सकते है, कोई भी व्यक्ति अपनी मन पसंद का डोमेन खरीद सकता है| डोमेन का अच्छा नाम ही क्यों चुने Why choose

आगे पूरा पढ़े -
How to do pedicure at home ?

कैसे करें घर पर बैठे ही पेडीक्योर जाने इसका सरल तरीका How to do pedicure at home?

जायदातर महिलाएं और लड़कियां अपने चेहरे को चमकाने के लिए काफी अलग अलग तरह-तरह के प्रोडक्ट्स और घरेलू उपाय को देख कर उन्हें अप्लाई करती हैं| पर किसी भी महिला की सुन्दरता का पता उसके पैरों से ही चलता है| यदि आपके पैर साफ-सुथरे हैं तो समझो वो महिला को ब्यूटी की अच्छी जानकारी है| क्यूंकि अब सभी महिलाएं अपने चेहरे का ख्याल तो रखती हैं पर साथ-साथ हाथ पैरों का भी बहुत ध्यान (Too much attention to the feet) रखती है| अक्सर आपको पार्लर में पेडीक्योर और मैनीक्योर करवाती हुई बहुत सारी महिलाएं दिखी होंगी| आजकल बहुत सारी महिलाएं पार्लर जाने मे आलस करती है वह सोचती है की क्या एक पेडीक्योर क लिए पार्लर जाए| ऐसे स्तिथि में आप घर पर भी बैठे हुए बड़ी आसानी से पेडीक्योर (Pedicure at home) कर सकती हैं| घर पर पेडीक्योर और मैनीक्योर करना बहुत आसान होता है| आपको अपने पैरों को

आगे पूरा पढ़े -
Traffic Rules /Penalties / Suggestion in India

भारत में यातायात के महत्वपूर्ण नियम / दंड सहिंता / सुझाव 🚦Traffic Rules /Penalties / Suggestion in India

जब भी हम अपने  घर से बाहर निकलते हैं और सड़क पर वाहन (Vehicles on the road) लेकर चलते हैं तो हमें वहां के नियम मानना जरुरी (rules must be obeyed) होता है क्यूंकि इन्हें ही ट्रैफिक रूल्स और यातायात के नियम कहा जाता है। अगर हम इनके नियम का पालन नही करेंगे तब हमारे ऊपर भारतीय यातायात नियम के अंतर्गत काफी कड़क कार्यवाही हो सकती है। इस स्तिथि में अगर आप भी भारतीय यातायत नियमों के बारे में पूरा विस्तार मे जानना चाहोगे तो आज इस पोस्ट मे हम आपको इस लेख के जरिए से भारतीय यातायात नियमों के बारे में पूरी जानकारी देंगे। साथ ही इन नियमों के उल्लंघन करने पर या तोड़ने पर आपको क्या क्या सजा हो सकती हैं, इस बारे में भी आपको पूरी व्याख्या से जानकारी दी जाएगी। आइए तो हम इस पोस्ट मे जानते है भारतीय यातायात के नियम। भारतीय यातायात के नियम 

आगे पूरा पढ़े -