Category: Home Remedies

क्या है पीसीओडी और पीसीओएस के संकेत, लक्षण और निवारन ✅ PCOD And PCOS’s Cause And Prevention

आज के जमाने में हर इंसान किसी ना किसी छोटी बड़ी बीमारियों से ग्रसित हैं लेकिन इसमें महिलाओं की स्थिति अधिक विचारनीय है | इस तरह के लाइफ स्टाइल से महिलाओं के द्वारा अपने शरीर को अनदेखा करने और ध्यान ना देने से विभिन्न प्रकार की परेशानिया और समस्याएँ पैदा होती है। जिनमें से एक है PCOD/PCOS बीमारी। कुछ सालों पहले तक यह समस्या 30-35 उम्र की महिलाओं में अधिक पाई जाती थी पर अब स्कूल जा रही बच्चियों और 20 वर्ष की महिलाओं में भी यह समस्या मामूली बात हो गई है। इस बिमारी से पीड़ित औरतों को इस के साथ साथ और भी अनेक बीमारियां होने का खतरा बना रहता है। क्या है PCOD/PCOS पॉली सिस्टिक ओवरी डिसऑर्डर Polycystic Ovarian Disease (PCOD) या पॉली सिस्टिक ओवरी सिंड्रोम Polycystic Ovary Syndrome (PCOS) एक ऐसी बीमारी है। जिसमें आमतौर पर प्रजनन क्षमता वाली (Re-productivity) उम्र की महिलाओं में हॉर्मोन में

आगे पूरा पढ़े -

दांतों को चमकदार और सफेद बनाने के कुछ लाभदायक तरीके Some Beneficial Ways To Make Teeth Shiny And White

सामने वाले की नज़र सबसे पहले दांतों की तरफ ही जाती है| ये पीले दांत चेहरे की पूरी खूबसूरत बिगाड़ देते हैं| हस्ते हुए या बोलते वक्त जब हमारे दांत पीले या गंदे दीखते हैं तो बहुत खराब लगता हैं पीले दांत हर जगह शर्मिंदा कर देते है दांतों में पीलापन या गंद के कारण बता दें कि दांतों में पीलेपन के कई कारण होते हैं जैसे स्मोकिंग, बेकार ओरल हाइजिन, जेनेटिक या फिर आपकी डाइट | ऐसे कारण आपके दांतों की सफेदी चमक धीरे-धीरे कम करते जाते हैं. सही समय पर मंजन ना करना या नियमित रूप से ना करने से दांतों को बहुत क्षति पहुचता हैं पीलेपन से छुटकारा पाने के लिए टिप्स फॉलो करें खाना खाने के पशचात नींबू के छिलके से दांतों को रगड़ें | ऐसे आप हफ्ते में दो बार कर सकते हैं | ध्यान रखें कि दातों के ऊपर छिलका रगड़े जबड़ों के बीच

आगे पूरा पढ़े -

थायराइड के लक्षण, कारण, घरेलू उपाय और परहेज : Home Remedies For Thyroid Tips In Hindi

थायरॉइड (Thyroid) से जुडी बीमारी अस्वस्थ खान-पान और तनावपूर्ण (Stressful Lifestyle) जीवन जीने के कारण होती है। जब शरीर में वात एवं कफ दोष हो जाता है तब व्यक्ति को थायरॉइड होता है। आप थायराइड का इलाज करने के लिये आयुर्वेदिक तरीकों को अपना सकते हैं। आयुर्वेदीक  उपचार द्वारा वात और कफ दोषों को सन्तुलित (balance)  किया जाता है। आप थायरॉइड का घरेलू उपचार भी कर सकते हैं। एलोपैथिक चिकित्सा में थॉयराइड विकार के लिये स्टीरॉइड्स का सेवन कराया जाता है, जो हानिकारक होता है। इसलिए थायराइड को जड़ से खत्म करने के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सा सबसे अच्छा माना जाता है। थायरॉइड क्या है? What is Thyroid in Hindi?   थायरॉइड ग्रन्थि (Thyroid Glands) में आई गड़बड़ी के कारण थायरॉइड से जुडी रोग होते है। Thyroid gland को अवटु ग्रन्थि भी कहा जाता है। अवटु या Thyroid ग्रन्थियाँ मानव शरीर में पाई जाने वाली सबसे बड़ी अतस्रावी ग्रंथियों में से

आगे पूरा पढ़े -
7 Healthy Vitamin D Foods

7 स्वस्थ विटामिन डी खाद्य पदार्थ आपको विटामिन डी की कमी से बचने के लिए खाना चाहिए-7 Healthy Vitamin D Foods Eat To Avoid Vitamin D Deficiency

हम सूर्य के प्रकाश से विटामिन डी प्राप्त कर सकते हैं, कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जो विटामिन डी से भरपूर होते हैं। निम्नलिखित 7 स्वस्थ विटामिन डी से रिच फूड्स है :- मिल्क – Milk विभिन्न स्वास्थ्य विशेषज्ञ और पोषण विशेषज्ञ दैनिक आहार में एक गिलास गाय के दूध सहित सुझाव देते हैं, जो विटामिन डी की आपकी दैनिक आवश्यकता का 20% देगा गाय का दूध विटामिन डी और कैल्शियम का एक बड़ा स्रोत है। सुनिश्चित करें कि आप पूर्ण वसा वाला दूध पीते हैं क्योंकि इसमें विटामिन डी की अधिकतम मात्रा होती है। डीके पब्लिशिंग की पुस्तक ‘हीलिंग फूड्स’ के अनुसार, “पूर्ण वसा वाले दूध का उपयोग करें, क्योंकि इसमें केवल 4 प्रतिशत वसा होती है; अपने वसा को बाहर निकालें, और इसके वसा में घुलनशील विटामिन ए, डी, ई और के भी कम हो जाते हैं। ” गाय का दूध विटामिन डी और कैल्शियम का एक बड़ा

आगे पूरा पढ़े -
विटामिन डी की कमी के संकेत और लक्षण - signs and symptoms of vitamin D deficiency

विटामिन डी की कमी के संकेत और लक्षण – signs and symptoms of vitamin D deficiency

विटामिन डी, Vitamin D जिसे ‘सनशाइन विटामिन’ Sunshine Vitamin के रूप में भी जाना जाता है, एक आवश्यक पोषक तत्व है जिसे हमारे शरीर पर शक्तिशाली प्रभाव के लिए जाना जाता है। भारत जैसे देश के लिए, जिसे प्रचुर धूप दी जाती है, यह जानकर हैरानी होती है कि आबादी का बड़ा हिस्सा विटामिन डी की कमी से पीड़ित है। विटामिन डी शरीर में कैल्शियम, मैग्नीशियम और फॉस्फेट जैसे महत्वपूर्ण खनिजों के विनियमन और अवशोषण में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। (Vitamin D plays an important role in regulation and absorption of crucial minerals like calcium, magnesium and phosphate in the body.) इसके अलावा, यह विटामिन प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है और हड्डियों और दांतों के विकास और विकास को सुविधाजनक बनाने के लिए जाना जाता है, साथ ही साथ मधुमेह जैसी विभिन्न जीवनशैली बीमारियों के खिलाफ प्रतिरोध में सुधार होता है। शरीर में विटामिन

आगे पूरा पढ़े -
These powerful remedies will enhance your Skin – Tips in Hindi

ये दमदार उपाय आपकी त्वचा को निखार देंगे – These powerful remedies will enhance your Skin – Tips in Hindi

ये तो आप जानते ही हो की हम लोग प्राकृतिक पदार्थ और आत्मा Natural substances and spirits दोनों से मिलकर बने हैं। इसका मतलब ये है कि हमारी त्वचा खाल Skin केवल एक बाहर दिखाई देने वाली परत के सिवाय भी बहुत कुछ है, जो जीवन और क्रियाशीलता से भरी हुई है। यह हमारे शरीर के अन्य अंगों की तरह ही एक भाग या यूँ कहे की अंग है और इसे स्वस्थ रखने तथा पोषण प्रदान करने की अत्यधिक जरुरत है। खैर सुंदरता भी एक भीतरी अनुभव है। जैसे कि कहा गया है कि सुंदरता प्रत्येक मनुष्य या जीव के हृदय में होती है और यह प्रत्येक व्यक्ति के चेहरे पर आकर्षण का कारन होती है | सुंदरता की परिभाषा त्वचा से परे है, लेकिन फिर भी हमारी त्वचा सुंदरता को सबसे अधिक अभिव्यक्त करती है। आधुनिक समय के सौन्दर्य उपचार केवल शारीरिक आवश्यकता को पूर्ण करते हैं, लेकिन ये

आगे पूरा पढ़े -