ओट्स खाने के फायदे जानिये क्या-क्या हो सकते हैं 🥣 Know the benefits of eating oats

दिन की शुरुआत एक पौष्टिक और हेल्दी नाश्ते से 🥣 Start the day with a nutritious and healthy breakfast

Table of Contents

आज कल की भाग्दौर भरी ज़िन्दगी में सेहत का ख्याल ही नही रहता है तो ऐसे में खुद पर ध्यान देना बहुत ज़रूरी हैं l  यदि आपको अपने दिन की शुरुआत एक पौष्टिक और हेल्दी नाश्ते से हो, तो दिनभर हमारे शरीर में ऊर्जा बनी रहती है। इस मामले में ओट्स से बेहतर और कुछ नहीं हो सकता। यह न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट (tasty) होता है, बल्कि इसमें कई तरह के पोषक तत्व भी पाए जाते हैं। ओट्स शरीर को पोषण (Nutrition) देने के साथ-साथ कई तरह की बीमारी से भी राहत दिला सकते हैं। फिर चाहे आपको अपना स्वास्थ्य बेहतर करना हो या फिर त्वचा और बालों में निखार (Hair shine) लाना हो। हर मामले में ओट्स लाजवाब हैं। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम ओट्स के फायदे के साथ-साथ ओट्स बनाने की विधि के बारे में भी बताएंगे।

स्कॉटलैंड में ओट्स को मुख्य आहार 🥣 Oats are the staple diet in Scotland

कुछ लोग अक्सर पूछते हैं कि ओट्स क्या होता है। आपको बता दें कि ओट्स एक तरह का दलहन है। इसका साइंटिफिक नाम ऐवना सटाइवा (Avena sativa) है और यह पोएसी (Poaceae) परिवार से संबंधित है। ओट्स को मुख्य रूप से खाने के लिए उपयोग किया जाता है। इसे ज्यादातर लोग नाश्ते के तौर पर उपयोग करते हैं। इसकी खेती की शुरुआत स्कॉटलैंड में हुई और आज लगभग सभी देशों में इसका उपयोग किया जाता है। स्कॉटलैंड में ओट्स को मुख्य आहार के रूप में उपयोग किया जाता है। इसका सेवन आपको स्वस्थ रखने के साथ-साथ कई रोगों से छुटकारा दिलाने में भी सहायता कर सकता है।

ओट्स खाने के फायदे क्या-क्या हो सकते हैं ? 🥣What can be the benefits of eating oats ?

ओट्स के फायदे अनेक हैं l ओट्स में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व आपको अनेक तरह से फायदा पहुंचा सकते हैं। इस लेख में उन फायदों को पुरे विस्तार (Entire range) से जानेंगे। सेहत के लिए ओट्स के फायदे कई बीमारियों को रोकने और उनसे निजात दिलाने के लिए ओट्स का सेवन लाभदायक हो सकता है। तो चलिए मेरे प्रिय पाठको सबसे पहले हम ओट्स के सेहत संबंधी फायदों के बारे में बात करते हैं।

  • मधुमेह के लिए (For diabetes)-: एक शोध में पाया गया है कि ओट्स घुलनशील फाइबर का अच्छा स्रोत होता है। फाइबर में बीटा-ग्लूकॉन पाए जाते हैं, जो ग्लाइसेमिक प्रभाव को कम (Reduce glycemic effect) करते हैं और इंसुलिन के प्रभाव को सक्रिय (Activate insulin effect) करने का काम करते हैं। इससे रक्त में शुगर की मात्रा को संतुलित रखने में मदद मिलती है। इसका फायदा मधुमेह के रोगियों को हो सकता है।
  • कार्डिएक हेल्थ (Cardiac health)-: ओट्स का सेवन ह्रदय रोग और कोलेस्ट्रॉल की समस्या से राहत दिलाने में मददगार साबित हो सकता है। कारण यह है कि इसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर पाया जाता है। इस संबंध में किए गए एक अध्ययन में पाया गया है कि ओट्स में मौजूद फाइबर कोलेस्ट्रोल (Fiber cholesterol) को भी कम करने का काम करता है। साथ ही इससे ह्रदय संबंधी जोखिमों को भी दूर रखने में मदद मिलती है l
  • कैंसर के लिए (For cancer)-: ओट्स का उपयोग कैंसर जैसी गंभीर समस्या से निजात पाने में भी किया जा सकता है। इस संबंध में किए शोध में यह पाया गया है कि ओट्स में मौजूद एंटीइंफ्लेमेटरी गुण कैंसर को बढ़ावा देने वाली कोशिकाओं को कम करते हैं और अच्छे कोशिकाओं (Good cells) को बनाए रखते हैं। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि ओट्स का सेवन कैंसर की समस्या में राहत दिलाने का भी काम कर सकता है l
  • उच्च रक्तचाप (high blood pressure)-: ओट्स का उपयोग उच्च रक्तचाप की समस्या को दूर करने में मददगार (Helpful in resolving the problem) साबित हो सकता है। इसमें घुलनशील फाइबर होता है, जो उच्च रक्तचाप के रोगियों के सिस्टोलिक व डायस्टोलिक ब्लड प्रेशर (डीबीपी) को कम कर सकता है। इससे उच्च रक्तचाप के खतरे को दूर रखा जा सकता है ।
  • वजन घटाने के लिए (For weight loss)-: ओट्स का सेवन आपके वजन को कम करने में सहायक हो सकता है। इस बात कि पुष्टि एक साइंटिफिक रिसर्च से भी हो चुकी है। एक शोध के अनुसार, ओट्स में पाए जाने वाला बीटा ग्लूकॉन खाने को पचाने के साथ ही शरीर में ऊर्जा (Body energy) को बनाए रखता है, जो भूख को शांत रखता है। इससे कि वजन को कम करने में मदद मिल सकती है। इसके सेवन के साथ नियमित व्यायाम का भी ध्यान रखना जरूरी है।
  • इम्युनिटी के लिए (For immunity-: ओट्स में बीटा-ग्लूकॉन पाए जाते हैं, जो ग्लाइसेमिक प्रभाव को कम करने में और इंसुलिन के प्रभाव को सक्रिय करने में मदद कर सकते हैं। साथ ही इम्यून सिस्टम को मजबूत करने का भी काम करते हैं। ओट्स के सेवन से मैक्रोफेज (macrophage) और न्यूट्रोफिल (neutrophil) को बढ़ावा मिलता है, जो बैक्टीरिया, वायरस और फंगस को दूर रखने के लिए जाने जाते हैं।
  • कब्ज के लिए ओट्स के फायदे (Benefits of oats for constipation)-: ठीक से पेट साफ न होने पर दिनभर स्वभाव चिड़चिड़ा रहता है। ऐसे में ओट्स का सेवन कर कब्ज की समस्या को दूर किया जा सकता है। ओट्स में पाए जाने वाला फाइबर इस समस्या से निजात दिलाने में सहायक हो सकता है, क्योंकि यह भोजन को पचाकर मल के रूप में बाहर निकालने का काम करता हैं l इससे आंत को मजबूत करने में मदद मिलती है, जिससे कब्ज से राहत मिलती है।
  • तनाव से राहत (Stress Relief)-: ओट्स खाने के फायदे में तनाव से राहत मिलने का भी जिक्र किया गया है। तनाव को कम करने के लिए विटामिन बी के समूह के साथ फोलेट भी फायदेमंद होते हैं। इसमें विटामिन बी-6 और बी-12 को खास वरीयता दी गई है। ओट्स में विटामिन बी समूह की अच्छी मात्रा पाई जाती है। विटामिन बी-6 और फोलेट तनाव के साथ-साथ स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी हो सकते हैं।
  • हड्डियों के लिए (To bones)-: सिलिकॉन एक खनिज है, जिसे हड्डियों के निर्माण और उन्हें मजबूत करने के लिए जाना जाता है। एक शोध में पाया गया कि ओट्स में कैल्शियम, प्रोटीन, मैग्नीशियम (Magnesium) व सिलिकॉन की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो हड्डियों के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। इसलिए, कह सकते हैं कि ओट्स का सेवन हड्डियों के लिए फायदेमंद होता है।
  • ऊर्जा बढ़ाने के लिए (To increase energy)-: ओट्स के सेवन से शरीर की ऊर्जा बढ़ाने में सहायता मिल सकती है। ओट्स में विटामिन्स, मिनरल और फाइबर मुख्य (Mineral and Fiber Primary) होते हैं। इसके सेवन से शरीर को लंबे समय तक थकान का अनुभव नहीं होता है
  • पाचन क्रिया के लिए (For digestion)-: एक रिसर्च में पाया गया है कि घुलनशील फाइबर पानी को आकर्षित करता है और पाचन के दौरान जेल में बदल जाता है। इससे पाचन की प्रक्रिया धीमी हो जाती है। कुछ खाद्य आहार में घुलनशील फाइबर की मात्रा पाई जाती है, जिनमें ओट्स, जौ, नट्स, मटर और फल व सब्जियां शामिल हैं। घुलनशील फाइबर ह्रदय रोग (Heart disease) के जोखिम को भी कम करने में मदद कर सकता है। ओट्स में अघुलनशील फाइबर भी होता है, जो पचे हुए खाद्य पदार्थ को मल के रूप में बाहर निकालने में मदद करता है l
  • बेहतर नींद लाने में सहायक (Helpful in getting better sleep)-: ओट्स खाने के फायदे में बेहतर नींद सोना भी शामिल है। ओट्स की हस्क के उपयोग से सेरोटोनिन के स्तर में सुधार (Improve serotonin levels) किया जा सकता है, जो अच्छी नींद के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। सेरोटोनिन एक तरह का केमिकल होता है, जो मूड को अच्छा करने का काम करता है।
  • रजोनिवृत्ति के लक्षणों से राहत (Relief from symptoms of menopause)-: रजोनिवृत्ति यानी मीनोपॉज के दौरान हाई डेंसिटी लिपिड (एचडीएल) यानी अच्छे कोलेस्ट्रोल के स्तर में कमी आती है, जबकि लो डेंसिटी लिपिड (एचडीएल) यानी खराब कोलेस्ट्रोल का स्तर बढ़ जाता है। इससे हृदय रोग कि समस्या बढ़ सकती है। ऐसा एस्ट्रोजन (Estrogen) में कमी के कारण होता है। ऐसे में ओट्स का सेवन शरीर में लिपिड के स्तर को संतुलित करता है, जो रजोनिवृत्ति के लक्षण से राहत दिलाने का काम कर सकता है।
इसे भी पढ़े -   भारत का राज्य सिक्किम, इतिहास और चीन की आपत्तियां:- SIKKIM State Of India

त्वचा के लिए इसके फायेदे 🥣 Its benefits for the skin

जैसा कि ऊपर आपने बीमारियों (Diseases) के लिए ओट्स खाने के फायदे जानें , वैसे ही त्वचा के लिए ओट्स किस तरह फायदेमंद है, आगे जानेंगे।

मुंहासों के लिए For acne

मुंहासे को दूर करने के लिए ओट्स का उपयोग लाभदायक हो सकता है। ओट्स में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो त्वचा के लिए अधिक फायदेमंद होते हैं। उन्हीं फायदों में से एक मुंहासे के लिए भी हो सकता है।

सामग्री : Ingredients

2 चम्मच ओट्स
1 चम्मच बेकिंग सोडा
पानी

कैसे करें उपयोग How to use

  • ओट्स को पीस लें और बेकिंग सोडा के साथ पानी मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर ठंडे पानी से धो लें।
इसे भी पढ़े -   विटामिन डी की कमी के संकेत और लक्षण - signs and symptoms of vitamin D deficiency

त्वचा को मॉइस्चराइज करने के लिए To moisturize the skin

एक वैज्ञानिक रिसर्च में देखा गया है कि ओट्स पाउडर का उपयोग कर बनाया गया मॉइस्चराइजर लोशन त्वचा को सूखने से बचा सकता है। यह त्वचा को 24 घंटे तक मॉइस्चराइज रखने का काम कर सकता है, लेकिन इस संबंध में अभी और वैज्ञानिक अध्ययन की जरूरत है।

सामग्री : Ingredients

2 चम्मच ओट्स
1 चम्मच नींबू का रस (Lemon Juice)
1 चम्मच शहद (Honey)

कैसे करें उपयोग How to use

  • ओट्स पाउडर, नींबू के रस और शहद (Lemon Juice and Honey) को मिला लें।
  • फिर इसे चेहरे पर लगाएं।
  • कुछ समय रहने दें और फिर गर्म पानी से धो लें।

सूखी त्वचा और खुजली का इलाज Treatment of dry skin and itching

ओट्स आपको त्वचा पर जलन, रूखेपन और खुजली आदि से दूर रखने में मदद कर सकता है। ओट्स में एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लेमेटरी (Anti inflammatory) प्रभाव पाए जाते हैं, जो बैक्टीरिया (Bacteria) को दूर रखने का काम कर सकते हैं। बैक्टीरिया के कारण विभिन्न प्रकार के त्वचा संबंधी रोग हो सकते हैं  कुछ बॉडी केयर क्रीम में ओट्स के उपयोग कि जानकारी मिलती है।

सामग्री : Ingredients

आधा कप ओट्स
1 अंडा
1 चम्मच बादाम का तेल (Almond Oil)
1 केला मैश किया हुआ (Banana mashed)
1 चम्मच शहद (Honey)

इसे भी पढ़े -   UP Bhulekh, Khasra and Khatoni Step by Step Guide in Hindi

कैसे करें उपयोग How to use

  • सभी को मिलाकर चेहरे पर लगाएं।
  • फिर 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • उसके बाद गर्म पानी से धो लें।

त्वचा की निखार के लिए For skin whitening

यदि किसी का त्वचा का रंग सांवला हो रहा है, तो इसके पीछे मुख्य कारण त्वचा में मेलोनिन की मात्रा का असंतुललित होना हो सकता है। इस परिवर्तन को संतुलित रखने के लिए विटामिन-सी की अहम भूमिका पाई गई है। ओट्स में विटामिन-सी पाया जाता है, इसलिए इसके उपयोग से त्वचा की रंगत में निखार आ सकता है।

सामग्री : Ingredients

2 चम्मच ओट्स
1 चम्मच शहद (Honey)

कैसे करें उपयोग How to use

  • ओट्स को पीस लें और शहद में मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें।
  • फिर पेस्ट को त्वचा पर लगाएं और 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • उसके बाद गुनगुने पानी से धो लें।

बालों के लिए ओट्स के फायदे 🥣 Benefits of oats for hair

जैसा कि आपने त्वचा के लिए ओट्स के फायदे जाने, वैसे ही यह बालों के लिए किस तरह फायदेमंद है आगे जानते हैं।

बालों का झड़ना रोके Stop hair fall

सिलिकॉन बालों के विकास में मदद कर सकता है। कुछ खाद्य पदार्थ (Food ingredient) में सिलिकॉन एसिड पाए जाते हैं, जिनमे चावल ,गेहूं और ओट्स को शामिल हैं। इसलिए, ओट्स का उपयोग आपके बालों के विकास (Hair growth) के लिए फायदेमंद माना जा सकता है।

सामग्री : Ingredients

3 चम्मच ओट्स
1 कप दूध (milk)
2 चम्मच नारियल तेल (Coconut Oil)
1 चम्मच शहद (Honey)

कैसे करें उपयोग How to use

  • सभी सामग्रियों को मिलकर पेस्ट बना लें।
  • फिर इसे स्कैल्प और बालों पर लगाएं।
  • 30 मिनट के बाद शैम्पू से बालों को धो लें।

बाल बनें चमकदार Hair become shiny

ओट्स में सिलिकॉन पाया जाता है, जो बालों का झड़ना कम कर सकता है। साथ ही बालों को चमकदार बनाने में मदद कर सकता है।

सामग्री : Ingredients

3 चम्मच ओट्स
1 कप दूध (milk)
1 चम्मच नारियल तेल (Coconut Oil)
1 चम्मच शहद (Honey)

कैसे करें उपयोग How to use

  • सभी सामग्री को मिलकर पेस्ट बना लें।
  • पेस्ट को सिर पर लगाकर अच्छी तरह से मालिश (Massage) करें और 30 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर बालों को शैम्पू से धो लें।

ओट्स के नुकसान Side Effects of Oats in Hindi

  1. यदि ओट्स के पैकेट को तैयार करते समय प्रिजर्वेटिव्स केमिकल (Preservatives chemical) का उपयोग किया गया हो, तो वह स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकता है।
  2. ओट्स ठीक से पके होने चाहिए। अगर कच्चे ही रह जाएंगे, तो पेट खराब (Stomach upset) हो सकता है।
  3. ओट्स के अधिक मात्रा (More quantity) में सेवन करने से आपके आंत और पाचन तंत्र को नुकसान पहुंचा सकता है, क्योंकि इसमें फाइबर की अधिक मात्रा पाई जाती है।
  4. अब तो आप जान गए होंगे कि ओट्स क्या है। इससे कौन-कौन से फायदे हो सकते हैं। अगर आप इसे अपनी डाइट में शामिल करने के बारे में सोच रहे हैं, तो पहले इस लेख को अच्छे से पढ़ें और समझ लें कि यह किन-किन बीमारियों के लिए उपयोगी है। साथ ही आप इस लेख के माध्यम से कुछ हद तक यह भी समझ गए होंगे कि ओट्स कैसे बनाते हैं। आशा करते हैं कि हमारा यह लेख आपके लिए फायदेमंद होगा।