दूध पिने के जादुई फायदे 🥛 The magical benefits of drinking milk

हर उम्र में जरूरी है दूध पीना 🥛 Drinking milk is important at every age

आज कल की जीवनशेली में दूध हमारी पौष्टिक आहार (nutritious food) का एक अहम हिस्सा है। हम छोटे हों, बड़े सभी के शारीरिक विकास और मानसिक स्वास्थ्य के दूध का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान (Significant contribution) होता है। इसमें फैट, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वॉटर-फैट सॉल्युएबल विटामिन, कैल्शियम, फास्फोरस जैसे मिनरल्स मिलते हैं जो हमारी बॉडी के लिए जरूरी होते हैं। वैज्ञानिकों ने पौष्टिक तत्वों से भरपूर दूध को पूर्ण आहार (Complete diet) माना है। छोटे हों या बड़े, दूध सभी के शारीरिक-मानसिक (physically and mentally) स्वास्थ्य के समुचित विकास और कई बीमारियों से बचाने में योगदान देता है।

वयस्कों के लिए भी है बहुत ज्यादा आवश्यक 🥛 It is very necessary for adults too

18 साल की उम्र तक के सभी लोगों के लिए दूध की ज्यादा जरूरत होती है क्योंकि इस उम्र तक शारीरिक और मानसिक विकास पूरा होता है। उम्र बढ़ने के साथ महिलाओं के लिए दिन में तकरीबन आधा लीटर दूध पीना जरूरी है। महिलाओं में होने वाले मासिकधर्म (periods) और उसमें होने वाली परेशानियों को कम करने में दूध सहायक होता है। दूध महिलाओं को मां बनने के लिए अंदरूनी मजबूती प्रदान करता है। मेनोपॉज की स्टेज पर पहुंची महिलाओं की हड्डियों से कैल्शियम के क्षरण (Corrosion) और ऑस्टियोपोरोसिस होने के खतरे से भी बचाता है। 60 साल से बड़े लोगों को अकसर कब्ज या डाइजेशन संबंधी समस्याएं होती हैं, रात को सोने से पहले गर्म दूध पीना उनके लिए लाभदायक रहता है। गर्म दूध में एक छोटा चम्मच हल्दी मिलाकर पीने से इम्यूनिटी बढ़ती है। खासकर बदलते मौसम में हल्दी मिला दूध का सेवन कई बीमारियों से बचाता है।

इसे भी पढ़े -   कैसे अपने कुत्तों की देखभाल करें How To Care of Dogs

दूध में मौजूद गुण हैं अमृत समान 🥛 Milk has properties similar to nectar

  1. दूध में मौजूद सोडियम और पोटेशियम शरीर में इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस बनाए रखने में मदद करते हैं। शरीर को डिहाइड्रेट होने से भी बचाता है।
  2. राइबोफ्लेविन का महत्वपूर्ण सोर्स होने के कारण दूध कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और वसा को तोड़ कर शरीर को एनर्जी प्रदान करने में मदद करता है।
  3. पानी में घुलनशील (soluble) होने के कारण राइबोफ्लेविन शरीर के विभिन्न अंगों में ऑक्सीजन की सप्लाई करता है, जिससे वे सक्रिय रहते हैं। दिन भर एनर्जी पाने के लिए नाश्ते (breakfast) दूध का सेवन फायदेमंद है।
  4. जबकि वर्कलोड या किसी भी वजह से तनावग्रस्त होने पर अनिद्रा से परेशान हों तो रात को सोने से पहले गर्म दूध पीना फायदेमंद है। दूध में मौजूद विटामिन डी सेरोटोनिन हार्मोन के स्तर को बढ़ाता है, जिससे मसल्स रिलेक्स होती हैं, थकान मिटती है, तनाव कम होता है और नींद अच्छी आती है।

दिन या रात, कब हैं दूध पीने का सही समय 🥛 Day or night, when is the right time to drink milk

  1. दूध पीने का सही समय क्‍या है, इस बात को लेकर हर किसी के मन में दुविधा रहती है. कई लोग कहते हैं दूध नाश्ते के साथ पीना अच्छा होता है तो कई लोग इसे रात में पीना सही समझते हैं l
  2. आयुर्वेद रात में दूध पीने को प्राथमिकता (priority) देता है l
  3. अगर दूध का सेवन दिन में किया जाए तो यह हमें दिनभर उर्जा देता है और रात में लिया जाए तो यह दिमाग (brain) को शांत करके अच्छी नींद लाने में सहायक होता है l
  4. आयुर्वेद रात में दूध पीने को प्राथमिकता देता है l अगर दूध पीने के सही समय को लेकर आप भी हैं दुविधा में तो जानिए ये कुछ जरूरी बातें क्या होता जब आप अलग-अलग समय पर दूध पीते हैं l
इसे भी पढ़े -   जानिए भारत के राज्य सिक्किम के बारे में - Know About State Of India 'Sikkim'

सुबह 🥛 Morning

पचाने में भारी होने के कारण सुबह दूध पीने से मना किया जाता है, लेकिन माना जाता है कि इस समय दूध पीने से दिनभर शरीर में उर्जा (energy) बनी रहती है l

दोपहर 🥛 After noon

दोपहर के समय दूध पीना बुजुर्गों के लिए फायदेमंद होता है क्‍योंकि इससे शरीर को ताकत मिलती है l

शाम 🥛 Evening

शाम के समय दूध पीना आंखों के लिए बहुत अच्‍छा माना जाता है l

रात 🥛 Night

रात को दूध पीना सबसे अच्‍छा माना जाता है क्‍योंकि इससे शरीर की दिन भर की थकान मिटती है (The body’s day-to-day fatigue disappears) और नींद अच्‍छी आती है l

रात को दूध पीने के लाभ 🥛 Benefits of drinking milk at night

  1. दूध में ट्रीप्‍टोफन नामक अमीनो एसिड की मौजूदगी से नींद के हार्मोन स्‍तर को बढ़ाने में मदद मिलती है l इसी कारण से रात को दूध पीने से अच्‍छी नींद आती है l
  2. दूध कैल्शियम का अच्छा स्रोत है, जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है l
  3. दूध में प्रोटीन होता है जो कि मांसपेशियों के विकास के लिए लाभदायक होता है l

जान लें कुछ जरूरी बातें, दूध पीने से पहले 🥛 Know some important things before drinking milk

  1. कमजोर पाचन, त्वचा संबंधी समस्‍याओं (Skin problem), खांसी, अपच और पेट में कीड़े जैसी समस्‍याओं से परेशान लोगों को दूध के सेवन से बचना चाहिए l
  2. दूध को कभी भी भोजन के साथ नहीं पीना चाहिए क्‍योंकि यह जल्‍द हजम (Digest) नहीं हो पाता. इसे हमेशा अलग से गर्म करके पीना चाहिए l
  3. रात को सोने से पहले दूध पीने के लिए जरूरी है कि आप शाम के भोजन के दो घंटे बाद ही इसे पि‍एं ताकि आपको रात को दूध पीने का लाभ मिल सके l

 दुर्लभ और अनोखे फायदे 🥛 Rare and unique advantages

  1. हड्डियों के लिए लाभदायक दूध में मौजूद विटामिन डी, शरीर में कैल्शियम और फास्फोरस के अवशोषण (Absorption) में मदद करता है जो हड्डियों, दांतों और बालों के विकास, स्वस्थ और मजबूत बनाए रखने में मदद करता है।
  2. कैल्शियम सिर्फ कम उम्र के बच्चों के विकास में ही मदद नहीं करता, बल्कि बड़ी उम्र में होने वाले ऑस्टियोपोरोसिस, ऑस्टोपीनिया, ऑस्टोमलेशिया और आर्थराइटिस के जोखिम को कम करने में मदद करता है। कैल्शियम, लैक्टोज और विटामिन डी से भरपूर दूध कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता है। दूध का नियमित सेवन कोलोरेक्टल और डिंबग्रंथि कैंसर को रोकने में मदद करता है।
  3. दूध संयुग्मित (Conjugated) लिनोलिक एसिड और ओमेगा 3 फैटी एसिड का अच्छा सोर्स है, जो अच्छे कोलेस्ट्रॉल एचडीएल को मेंटेन करके हार्ट डिजीज के खतरे को कम करने में मदद करता है। नायसिन, विटामिन बी 3 और बी12 हमारे नर्वस सिस्टम और डीएनए के ब्लड वैसल्स के लचीलेपन (Flexibility) को मेंटेन करता है, जिससे हाइपरटेंशन कंट्रोल में रहता है।
  4. दूध में प्रोटीन के माइक्रोन्यूट्रिएंट्स, अमीनो एसिड और फास्फोरस जैसे मिनरल्स होते हैं, जो शरीर को एंजाइम बनाने, मसल्स के निर्माण, डैमेज सेल्स को रिपेयर करने और स्किन के टिश्यूज को विकसित करने में मदद करते हैं। दूध में मौजूद लैक्टिक एसिड, डेड स्किन सेल्स को हटाने में मदद (Help to remove) करता है और स्किन को मुलायम बनाता है। दूध का नियमित सेवन स्किन को सॉफ्ट बनाने में मददगार होता है।
  5. दिन में 2 साल तक के बच्चों को डेढ़ से दो लीटर दूध दे सकते हैं। आहार लेना शुरू करने पर 5 साल तक के बच्चों को तकरीबन 1 लीटर दूध पीना चाहिए। 5-18 साल तक के किशोर 650 मिलीलीटर दूध ले सकते हैं। 18 से बड़ी उम्र के लोग दिन में आधा लीटर दूध या दूध से बने प्रोडक्ट ले सकते हैं।